सुहाग-रात के दिन दुल्हन क्यों पिलाती है दूल्हे को अपने हाथों से दूध, जा निए इसके पीछे की वजह

सुहाग-रात के दिन दुल्हन क्यों पिलाती है दूल्हे को अपने हाथों से दूध, जा निए इसके पीछे की वजह

जैसा के हम सभी जानते है की शादी सिर्फ दो शरीर का ही मिला नहीं होता बल्कि दो आत्माओं का मिलन भी कहा जाता है. ये मिलन सही मायनों में शादी की पहली रात यानि की सुहागरात में होता है. जिसमें दोनों जोड़े एक दूसरे से प्यार करने का एहसास करते है. इस रात को लेकर हर लड़की और हर लड़का कई सपने देखता है. शादी के बाद लड़का हो या लड़की दोनों की दुनिया बदल जाती है। दोनों के जीवन में बहुत से बदलाव आते हैं, और सुहाग रात के नाम से ही हर कोई अपने ख्वाबों की दुनिया में खो जाता है.

loading...

आपने अगर कभी ध्यान दिया हो तो आपको पता होगा कि पहले सभी लोग शादी की तैयारियों को लेकर परेशान रहते हैं, और बाद में अपनी गोल्डन नाइट यानि सुहाग रात को लेकर…अगर आपकी शादी हो चुकी है तो आप इस दौर से गुजर चुके होगें.

लेकिन जिन की शादी नहीं हुई है या जल्द होने वाली है. उनके मन में इस रात को लेकर काफी सवाल होते हैं. लेकिन आज हम आपके सबसे पहले सवाल का हल यानि सुहागरात पर दिए जाने वाले दूध के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं.

हमें बचपन से ही दूध पीने की नसीहत दी जाती है और बार-बार इसके सेवन को लेकर ताकीद की जाती है। दूध नहीं पियोगे तो ताकत नहीं आएगी, हड्डियां मजबूत नहीं होंगी, दिमाग काम नहीं करेगा इत्यादि. और फिर आती है सुहागरात पर दूध पीने की प्रथा जिसकी शुरुआत तो पता नहीं कहाँ से हुई पर फिल्मों और TV की बदोलत इसको खासी लोकप्रियता मिल गयी है. आइए जानें इसके पीछे कुछ पुख्ता कारण है भी या नहीं.

अक्सर फिल्मों और टीवी सीरियल्स में यह दिखाया जाता है कि शादी की पहली रात को दूल्हन दूल्हे के लिए दूध का गिलास लेकर जाती है। जैसा कि हमने पहले ही बताया है कि अगर आपकी शादी हुई है तो आपके साथ भी ऐसा ही हुआ होगा. इस दूध को ले जाने का पहला कारण ही आप दोनों के बीच की दूरी को कम करने का होता है। दरअसल ये हमारे भारत देश में शादी की पहली रात से जुड़ी एक परंपरा है. जो ना जाने कितनी ही सदियों से चली आ रही है.

इस दूध को कुछ खास तरिके से तैयार किया जाता है जिसमें चीनी के साथ-साथ कुछ और चीजें भी मिली होती है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि इस परंपरा के पीछे क्या कारण होगा। नहीं ना, लेकिन आज हम आपको बताते हैं कि आखिर क्यों नई नवेली दूल्हन शादी की पहली रात को अपने पति को दूध का गिलास देती है.

सुहाग-रात पर दिए जाने वाले दूध के होते है बहुत फायदे

हर किसी की लाइफ का सबसे सुनहरा पल शादी की पहली रत जिसे गोल्डन नाइट की भी कहा जाता है बहुत ही खास होती है. इस रात में दूल्हे को पिलाए जाने वाला दूध भी उतना ही खास होता है. इस दूध में केसर, हल्दी, चीनी,काली मिर्च, बादाम और सौंफ मिलाई जाती है. इन सब चीजों को मिलाकर दूध को अच्छी तरह से उबाला जाता है और फिर गुनगुना दूध दूल्हे को उसकी दुल्हन के द्वारा दिया जाता है.

1.से-क्स की इच्छा को बढ़ाता है दूध

हमने जैसा के पहले बताया की शादी की पहली रात को दूल्हे को दिए जाने वाले खास दूध में काली मिर्च से लेकर बादाम तक मिले हुए होते हैं. लेकिन जब इन सब चीजों के साथ दूध को अच्छे से उबाला जाता है तो इनमे से कुछ ऐसे तत्व निकलते हैं, जो हमारे बॉडी में मौजूद हार्मोन्स को बढ़ाते है जिस्सके की से-क्स की इच्छा और बढ़ जाती है. इसके साथ ही इसकी मदद से पुरूष बेहतर ऑर्गे-न्ज्म भी हासिल कर पाते है। साथ ही रोज इस तरह का दूध पीने से लिबीबो, स्प-र्म काउंट और मोटिलिटी में भी इजाफा होता है. जिससे शरीर को भरपूर एनर्जी मिलता है.

2.बॉडी को रिलेक्स और खुश करता है

आज का वक़्त काफी जयदा बदल चूका है. आजकल शादी से पहले ही लड़का लड़की आपस में काफी घुलमिल जाते है. लेकिन पुराने समय में ज्यादातर ऐसा होता था कि दूल्हा और दूल्हन शादी से पहले एक दूसरे से मिले नहीं होते थे. इस वजह से शादी की पहली रात दोनो काफी नर्वस होते था. बताया जाता है की इस दूध को पीने से दूल्हे की नर्वसनेस खत्म हो जाती है और उसमें जोश भी आता है। इसके साथ ही इस दूध में मिले केसर की खुशबू से वो हार्मोन्स अधिक श्रावित होने लगते है जिससे खुशी महसूस होती है। कुल मिलाकर ये खास दूध दूल्हे का मूड को काफी अच्छा कर देता है.

3.तन और मन को जोश और एनर्जी देता है

जैसा कि हम सभी जानते है की हमारे देश भारत में होने वाली शादियों के रीति-रिवाज काफी दिन तक चलते है जो की काफी थकाने वाले होते हैं. दूल्हा बेचारा दो-तीन दिन की रस्मों से इतना थक जाता है की उसे सुहागरात के लिए थोड़े जोश और एनर्जी की जरूरत होती है। ऐसे में चीनी मिले इस स्पेशल दूध से उसमे जोश और एनर्जी आ जाती है.

4.नजदीकी बढ़ाता है

शादी की पहली रात में जब दूल्हन अपने जीवन साथी, अपने पति को अपने मेंहदी लगे हाथों से गर्म दूध का गिलास पकड़ाती है तो उनके बीच नजदीकीयों की शुरूआत उसी पल से हो जाती है। ऐसे में ये नजदीकी तब और ज्यादा बढ़ जाती है जब इस दूध को दोनों मिलकर पीते हैं। इससे दोनों के बीच की घबराहट और हिचकिचाहट भी कम होती है साथ ही साथ रिश्तों की गर्माहट भी महसूस होने लगती है.

5.इम्यूनिटी सिस्टम को तंदुरुस्त कर एनर्जी बढ़ाता है और कई तरह के रोगो से बॉडी को बचाता है

शादी की पहली रात को दूल्हे के लिए हल्दी, काली मिर्च और सौंफ के मिश्रण वाले दूध का सेवन करना काफी अच्छा साबित होता है. इन मिश्रण के दूध में मिल जाने से इसमें मौजूद एंटी बैक्टिरियल और इम्यूनिटी बढ़ाने वाले सभी तत्व शामिल हो जाते हैं. हम यहां आपको बता दे की जब भी कोई इंसान पहली बार किसी के साथ से-क्स करता है तब इंफेक्शन होने का खतरा काफी रहता है. ऐसे में स्पेशल दूध इम्यूनिटी बढ़ाकर उस जोखिम को बहुत हद तक कम करने का काम करता है.